likhi hui ibarat - 4 by Jyotsna Kapil in Hindi Short Stories PDF

लिखी हुई इबारत - 4

by Jyotsna Kapil in Hindi Short Stories

लिखी हुई इबारत बड़ी बेसब्री से बेटे की पसन्द देखने का इंतज़ार करती डॉक्टर शिल्पा उस लड़की को देखकर चौंक गई।" ये क्या , शिशिर को यही मिली थी ?"सात वर्ष पहले किसी सम्बन्धी की ज़बरदस्ती का शिकार होकर ...Read More